Friday, November 27, 2015

श्रीनगर यात्रा - उड़ान भरने से पहले का सफ़र (Pre-Departure Journey)

सोच रहा हूँ इस यात्रा वृतांत की शुरुआत कैसे करूँ ? चलिए अपने पुराने अंदाज़ में ही शुरू करता हूँ ! हर बार की तरह इस यात्रा पर जाने की योजना भी काफ़ी पहले ही बन गई थी ! बात इसी साल जून की है जब अलग-2 कंपनियाँ प्रतिस्पर्धा में बने रहने के लिए हवाई यात्राओं पर विभिन्न प्रकार के प्रलोभन देने में लगी थी ! ऐसी ही एक योजना के तहत पिछली बार मेरे कई मित्रों ने अलग-2 गंतव्यों के लिए हवाई टिकटें आरक्षित करवाई थी ! अब तक मैं यही सोचता था कि पता नहीं ये टिकटें सही होती भी है या इनमें कुछ झोल-झाल होता है और यात्रा के समय कुछ अतिरिक्त शुल्क देना होता है ! पर दोस्तों से मिली जानकारी के अनुसार इस योजना के तहत मिलने वाले टिकट काफ़ी सस्ते होते है, विमान कंपनिया खाली सीटों को भरने के लिए ऐसा करती है ! इनका मत होता है कि विमान में बची सीटों को खाली ले जाने से अच्छा है उन्हें सस्ते दाम पर बेच देना !

हवाई अड्डे जाते हुए रास्ते में लिया एक चित्र (Airport Link Metro)


Wednesday, November 18, 2015

पूरे देश में है छठ के त्योहार की धूम (Celebration of Chath Festival in India)

छठ पूजा का हिंदू धर्म में बहुत महत्व है, छठ के इस पर्व को भी दीवाली के बराबर ही माना जाता है ! बल्कि देश के कुछ हिस्सों (यूपी-बिहार) में तो इसे दीवाली से भी ज़्यादा महत्व दिया जाता है ! भले ही लोग दीवाली पर अपने घर परिवार के साथ ना हो, पर छठ मनाने के लिए वो देश के अलग-2 हिस्सों से अपने परिवार के पास पहुँच जाते है ! यही कारण है की दीवाली के बाद देश के अलग-2 हिस्सों से यूपी-बिहार जाने वाली अधिकतर रेलों में भीड़ बहुत बढ़ जाती है ! हालाँकि, किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए भारतीय रेल इस दौरान यूपी-बिहार के लिए कुछ अतिरिक्त रेलें भी चलाती है, बावजूद इसके हर साल इस मौके पर रेलों में भगदड़ की खबरें सुनने को मिलती रहती है ! वैसे तो इस त्योहार को यूपी-बिहार के लोग ज़्यादा मनाते है पर धीरे-2 ये त्योहार पूरे भारतवर्ष में मशहूर हो गया है इसलिए अब ये त्योहार देश के कई हिस्सों में मनाया जाता है ! इसकी भी कई वजहें है पहली वजह तो है यूपी-बिहार के लोगों का देश के अलग-2 हिस्सों में पलायन करना, और दूसरी वजह है लोगों की इस त्योहार के लिए बढ़ रही श्रद्धा !

ghat of chath
छठ पूजा के लिए बनाया गया घाट (A ghat decorated for the festival of Chath)