Sunday, May 30, 2021

अल्मोड़ा का कटारमल सूर्य मंदिर (Katarmal Sun Temple, Almora)

शनिवार, 03 मार्च 2018 

इस यात्रा वृतांत को शुरू से पढने के लिए यहाँ क्लिक करें !

यात्रा के पिछले लेख में आप रानीखेत का स्थानीय भ्रमण कर चुके है, अब आगे, गोल्फ कोर्स ग्राउन्ड से चले तो हमारा अगला पड़ाव कटारमल सूर्य मंदिर था जो यहाँ से लगभग 27 किलोमीटर दूर है ! इस मार्ग पर 7 किलोमीटर चलने के बाद बाईं ओर मजखाली-सोमेश्वर रोड अलग हो जाता है जबकि हम रानीखेत-अल्मोड़ा मार्ग पर चलते रहे ! इस मार्ग पर प्राकृतिक दृश्यों की कोई कमी नहीं है, नज़ारे ऐसे कि हर मोड पर रुकने को मन करता, यहाँ की सुंदरता को निहारने के लिए हम रास्ते में कई जगह रुके ! बीच में कुछ छोटे-2 रिहायशी कस्बे भी आए, जब कोई रिहायशी कस्बा आता तो सड़क किनारे इक्का-दुक्का दुकानें भी दिख जाती और कस्बे से बाहर निकलते ही फिर से वही सड़क किनारे ऊंचे-2 चीड़ के पेड़ दिखाई देने लगते ! सड़क के एक ओर पहाड़ी थी तो दूसरी ओर घाटी, घुमावदार मार्ग पर चलते हुए ये घाटी कभी हमारे दाईं तरफ रहती तो कभी बाईं तरफ, कुल मिलाकर बढ़िया सफर कट रहा था ! आगे बढ़ते हुए ऐसे ही एक मोड पर मैंने गाड़ी रोक दी और पास ही बने एक ऊंचे टीले पर फोटो खिंचवाने के लिए पहुँच गया ! यहाँ से आस-पास की घाटी का जो सुंदर दृश्य दिखाई दे रहा था, वो आँखों को सुकून देने वाला था ! बच्चों ने भी सफर का पूरा आनंद लिया, और खूब मस्ती की, परिवार संग बिताए ये पल आज भी मेरे जेहन में ताजा है !

कटारमल मंदिर का एक दृश्य